हरियाणा के जनमानस से पंचनद शोध संस्थान की अपील

हरियाणा में पिछले कुछ दिनों में हुए घटनाक्रम से पंचनद शोध संस्थान के सभी कार्यकर्ता दुःखी, क्षुब्ध, क्रोधित एवं निराष हुए हैं। हरियाणा प्रान्त का समाज आपसी सौहार्द्य एवं सहयोग के लिए जाना जाता है परन्तु आरक्षण संबंधित आन्दोलन से इस सच्चाई को तोड़ने का प्रयास हुआ है। यह असहनीय है। हम सबको समझना चाहिए…

व्यक्ति में राष्ट्रभाव मजबूत होगा तो देश अपने आप मजबूत हो जाएगा : प्रो. कोहली

चंडीगढ़। गुजरात के राज्यपाल प्रो. ओमप्रकाश कोहली ने कहा कि यदि व्यक्ति में राष्ट्रभाव मजबूत होगा तो देश स्वत: मजबूत हो जाएगा, यह भावना लोगों में अवश्य होनी चाहिए। जब यह भाव जनता में आएगा तो वह एकात्म मानव दर्शन की ओर उसका बढ़ता हुआ एक कदम होगा। प्रो. कोहली रविवार को चंडीगढ़ के सेक्टर…

Great Inventions By Indian High School Students

What is your most important achievement till date? These child prodigies have a set of patents to their names before they got past high school, meet the real future of India. 1. Oxygen, carbon dioxide level indicator in the car. S R Valva, Tamil Nadu, Patent:- 5089/CHE/2013 The idea struck him after reading and hearing the…

Bhartiya Etihas Lekhan

भारतीय इतिहास लेखन की विकृतियां: तथ्यों के आइने में लेखक ,प्रो. सतीष चन्द्र मित्तल सेवानिवृत्त कुरूक्षेत्र विश्वविद्यालय, कुरूक्षेत्र आमुख किसी भी देश की वर्तमान पीढ़ी अपने अतीत से प्रेरणा प्राप्त कर भविष्य का निर्माण करती है। प्रेरणा में इतिहास की महत्वपूर्ण भूमिका होती है। इसलिए इतिहास का सच्चा शोध जरूरी है, कि इतिहास व्यक्ति और…

हिन्दुत्व: सत्य, स्वत्व और सत्व

डाॅ. मनमोहन वैद्य : एक बार काॅलेज के दूसरे वर्ष में पढ़ रहे एक विद्यार्थी ने अपने परिचय में बताया ‘‘वह छोटी कहानियां लिखता है।’’ ‘कैसी छोटी कहानियां? पूछने पर उसने मुझे हाल में लिखी एक छोटी कहानी सुनाई। चुनाव चल रहे थे, इसलिए उसकी कहानी का विषय भी चुनाव ही था। कहानी थी –…

पंचनद शोध संस्थान – परिचय

सत्य की अनन्त खोज Read in English अनादि काल से समाज व राष्ट्र के जीवन के सत्यों की समस्त अभिव्यक्तियों की आर्जब एवं अनंत खोज भारत की सर्वाधिक महत्वपूर्ण सांस्कृतिक परंपरा रही है। किसी भी विचार, सिद्धांत या संकल्पना को स्वीकारने से पूर्व तीक्ष्ण एवं संपूर्ण विवेचना करना हमारे बुद्धिजीवी विद्वानों का स्वभाव रहा है।…

INTRODUCTION OF PANCHNAD RESEARCH INSTITUTE

An honest and tireless pursuit of truth in all its manifestations and all fields of social and national life has been the most valued cultural tradition of India since times immemorial. Questioning incisively and thoroughly every postulate, creed or idea before accepting and adopting it has been the main attribute of our intellectual ethos. It…